Bluepadमुझे राम नहीं बनना, में रावण ही ठीक हूं
Bluepad

मुझे राम नहीं बनना, में रावण ही ठीक हूं

प्रहलाद चौधरी (kaswa)
प्रहलाद चौधरी (kaswa)
26th Sep, 2020

Share

मुझे राम नहीं बनना,में रावण ही ठीक हूं
चाहे इंसान हो या भगवान ने सबके लिए हानि था,
में रावण बचपन से ही सर्वश्रेष्ठ और झानी था,
बेढंग शिव तांडव सा हूं मेरी मां के आशीर्वाद से में थोड़ा
दानव सा हूं।
जब दर्द में भी चिक चिक कर तांडव किया,तब महकाल ने
मेरा नाम रावण दिया।
महाकाल के दिए इस नाम को कोई केसे मीठा सकता है
ना रावण कभी हारा था और ना कोई हरा सकता है..
मेगनाथ के लिए सारे ग्रहु को एक साथ बिठाया थाउस रावण ने यमराज और शनि को अपना बंधी बनाया था।
सूर्य खुद शनि महाराज को बचाने आ गए, सामने देखो कंकड़ पत्थर
कैलाश को हिलाने आ गए।
मुझे बस विश्वास घात के तिरू ने भेदा था,
खुद भगवान राम ने झान लेने लक्ष्मण को भेजा था।।
हा मैने बुराई को जन्म दिया,ताकत पर घमंड किया,
मुझे एक नहीं साल में हजार बार जला दो, छोडो मुज रावण की बाते
तुम थोड़ा ही सही राम बनकर दिखा दो…!!
सखेरदीप (संदीप)

18 

Share


प्रहलाद चौधरी (kaswa)
Written by
प्रहलाद चौधरी (kaswa)

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad