Bluepadइरफान खान
Bluepad

इरफान खान

Megha Agarwal
Megha Agarwal
1st May, 2020

Share


ज़मीं पर आसमां से उतरा सितारा था वो,
इस्लाम में पैदा हुआ ब्राह्मणी मन से था वो,
जिसने सुंदरता का नहीं काबिलियत का सिक्का
उछाला था,
और कोई नहीं एक कलाकार इरफान खान था वो,
अपने ही धर्म की बुराइयों के खिलाफ खड़ा हुआ जो,
जिसने धर्म पीछे छोड़ हिन्दुस्तानी फ़र्ज़ अदा किया
इक अदाकार नहीं सबके दिलों पर राज करने वाला
कलाकार था वो,
निभाए अनेक किरदार उसने और किया दिल
झकझोर वाली फिल्मों में काम,
जंग लड़ी पहचान की कई पर हार गया वो जिंदगी
की आराम,
डायलॉग उसके बेहतरीन थे और डाल देता फीके
रोल में भी जान,
फिल्मों में डाली जान जिसने अपने हुनर ओ
काबिलियत से,
उसको ही ना चाहकर अपनों ने ही किया सुपुर्द ए
खाक,
अपनी मां की जान और बेहद उनके करीब था वो,
निभाकर इंसानियत का फ़र्ज़ आखिर समय में नहीं
मिला उनसे वो,
किसे पता था जीतकर जिंदगी की जंग फिर भी हार
जाएगा वो,
इक रोज़ भी मां के बिन रह ना पाएगा वो,
रमजान के पाक महीने में हसरत पूरी उसकी हो गई,
खुदा की रहमत से रूह उसकी उसकी मां से हमेशा
के लिए मिल गई।


19 

Share


Megha Agarwal
Written by
Megha Agarwal

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad