Bluepad...मायाभरी है
Bluepad

...मायाभरी है

Umesh Shukla
Umesh Shukla
24th Jun, 2020

Share

रक्तबीज जैसी मायाभरी है
जनप्रतिनिधियों की करतूत

जनता करती हाहाकार मगर
वे हिलते ही नहीं एक सूत

जब तक कायम है नेताओं
में धनार्जन की तगड़ी होड़

तब तक जन समस्याओं
का मिलेगा न कोई तोड़

धन के आगे संवेदना का
उनको तनिक नहीं ख्याल

सरकारी कोष की बंदरबांट
से नेता हो रहे हैं मालामाल

आय की अधिकतम सीमा का
जब तक नहीं होगा निर्धारण

नेताओं की होड़ बनी रहेगी
खजाने के लूट का कारण

नेताओं के दिल में बसी रहती
बस ऊंची कुर्सी की ही चिंता

उनके लिए बस वोट है देश
की भोली-भाली जनता

जनता के दुख दर्द की कहीं
उन्हें तनिक भी नहीं है फिक्र

वे लंबे जुमलों से करते बस
अपनी उपलब्धियों का जिक्र

जब तक जन जन के लब से
उठेंगे नहीं ज्वलंत सवाल

तब तक देश को जकड़े रहेगा
समस्याओं का मकड़ जाल


17 

Share


Umesh Shukla
Written by
Umesh Shukla

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad