Bluepad | Bluepad
Bluepad
तेरा दरबार
Mysterious vision
Mysterious vision
21st Nov, 2022

Share

सजदा करने आया तेरे दरबार मैं
सच कहू तो अपना
रोना रोने आया तेरे दरबार मैं
खाली हाथ चला आया मैं
बडी शिद्दत से चाहने वाला आज
कुछ ना कुछ तो मांगने के लिये आया
तेरा दिदार सुकून है ये खुदा
तेरी चाहत दर्द के लिये मरहम है
तेरे दरबार मैं आ के
तुजसे ही शिकायत करना मजबुरी है
किस को बतायें दिल दा हाल ए खुदा
तेरे सामने झुक के सारे गम रिहा कर देता हूं
अपने हालातो को तू भी जरा संभाले
जरा संवार ले थोडी हिम्मत ताकत दे
यही दुवा करते है तेरे दरबार मैं
अच्छा लगता है...
तेरा ये दरबार सुकून से भरा
आशा ओ से ऊर्जा से भरा हुवा
अलग ही अहसास होने लगता है
जैसे कि आस पास ही है तू
ए खुदा ए मेरे पालन्हार
मुझ मैं तू समाया हुवा तुजसे जुदा ना मैं❤️🙏🏻

169 

Share


Mysterious vision
Written by
Mysterious vision

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad