Bluepad | Bluepad
Bluepad
एक लार्क चिड़िया की कहानी
उत्सव
उत्सव
23rd Sep, 2022

Share

nowledge Grow
Menu
Home - Motivational Stories - Top 7 Best Motivational Story in Hindi For Success 2022
Top 7 Best Motivational Story in Hindi For Success 2022
by Shridas Kadam
Best Motivational Stories in Hindi For Success | Best Motivational Story in Hindi For Success:
नमस्कार दोस्तों आप सभी का knowledge Grow Motivational Blog पर स्वागत है। दोस्तो आज का यह आर्टिकल आप सभी के लिए बहुत ही Special & Motivational साबित होने वाला है, क्योंकि दोस्तो आज में आप के साथ Top 7 Best Motivational Stories In Hindi में शेयर करने वाला हू।
दोस्तो मैंने आपके लिए सबसे मूल्यवान प्रेरणादायक कहानियां हिंदी में ढूंढकर इकट्ठी किया हुआ है, ताकि आपके जीवन में सफलता हासिल कर सकू। ये सभी प्रेरणादायक हिंदी कहानियां आपकी रचनात्मक और आपकी अंदरूनी गुणों से एक बार फिर से मिलवाने में आपकी मदद करेगी।
Best Motivational Story In Hindi For Success
Best Motivational Story in Hindi For Success
अनुक्रम दिखाएँ
Top 7 Best Motivational Stories in Hindi For Success | Hindi Motivational Stories
दोस्तो आप केवल मुझे आपके कुछ चंद मिनिट दीजिए, इन सभी प्रेरणादायक लघु कहानियों को पढ़ने के लिए, ताकि आप इनसे कोई सबक सीख सके और जीवन भर के लिए एक याद बना सकें।
दोस्तो ये कहानियां केवल लघु कहानियां नही है, बल्कि ये आपके जीवन में एक परम निशान बना सकती हैं। में आप सभी से यह उम्मीद करता हु की इन सभी प्रेरणादायक हिंदी कहानियों से आपको जरूर कुछ ना कुछ सीखने को मिलेगा।
दोस्तों ये सभी प्रेरणादायक कहानियां पाठकों को पढ़ने के लिए हिंदी और मराठी इन दोनो भाषाओं में उपलब्ध है, अगर किसी को इन सभी प्रेरणादायक कहानियों को मराठी में पढ़ना चाहते हैं, तो आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके मराठी में भी पढ़ सकते हैं।
मराठी पाठक : Best Motivational Story in Marathi For Success
दोस्तों इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़िए , क्यूँकी इस आर्टिकल से आपको बहुत कुछ सिखने को मिलने वाला है. तो बिना समय को गंवाए चलिए आपके साथ 7 Best Motivational Stories In Hindi में शेयर करते हैं।
Best Motivational Story in Hindi For Success – दो भाईयों की कहानी
दोस्तो ये कहानी है दो भाईयों की, उनमें से एक नशीली दवाओं का आदी था और अपने परिवार के लोगों को अकसर पीटा करता था , जबकि दूसरा काफ़ी सफल व्यापारी था। वह समाज में सम्मानित था और उसका एक अच्छा परिवार था।
एक ही माँ – बाप द्वारा पाले गए एक ही माहौल में पले – बढ़े दो भाई एक – दूसरे से इतने अलग कैसे हो गए। पहले भाई से पूछा गया कि आप यह सब क्यों करते हैं ?
आप नशीली दवाओं के आदी है, शराबी हैं , अपने परिवार के लोगों को पीटते हैं ? आपको यह सब करने की प्रेरणा कहाँ से मिलती है ?
उसने जवाब दिया, मेरे पिता से, वो नशीली दवाओं के आदी थे, शराबी थे और अपने परिवार के लोगों को हर दिन पीटा करते थे। तो फिर आप मुझसे क्या बनने की उम्मीद करते है? उन्हीं वजहों से मैं ऐसा इंसान बन गया हूँ।
जब दूसरे भाई से पूछा गया , आप सारे सही काम क्यों करते हैं ? तो आपकी प्रेरणा का स्रोत क्या है ? और जरा सोचिए , उसने क्या कहा, मैं जब छोटा था, तो अपने पिताजी को शराब के नशे में धुत और सारे ग़लत काम करते हुए देखा करता था।
मैंने उसी समय सोच लिया था कि मुझे उनके जैसा नहीं बनना है। दोनों भाई एक ही स्रोत से प्रेरणा हासिल कर रहे थे, लेकिन एक ने उसका इस्तेमाल सही ढंग से किया और दूसरा ग़लत ढंग से कर रहा था।
ग़लत ढंग की प्रेरणा इंसान को आसान रास्ता अपनाने की इच्छा पैदा करती है , लेकिन अंत में वह रास्ता ज्यादा मुश्किल साबित होता है।
जरुर पढ़े: Top 5 Powerful Real Life Inspirational Stories in Hindi
जरुर पढ़े: 15 सफल लोगों की असफलता की कहानियां हिंदी में
Best Motivational Kahani in Hindi For Students – चार रानियों वाला राजा
एक बार एक रईस राजा था जिसकी चार रानियाँ थीं। वो अपनी चौथी रानी को सबसे ज्यादा प्यार करता था और उसे महंगे कपड़ों से लादे रहता और बेहतरीन खाना खिलाता था, उसे महूंगे कपड़ों से लादे रहता और बेहतरीन खाना खीलाता था। वो उसे केवल सबसे अच्छा देता था।
वो अपनी तीसरी पत्नी से भी बहुत प्यार करता था और उसका आस – पास के राज्यों में बखान करता था. मगर उसे डर था कि वो एक दिन उसे किसी और के लिए छोड़ देगी।
वो अपनी दूसरी पत्नी से भी प्यार करता था, और वो उसकी हमराज़ थी और उसके साथ हमेशा सहानुभूति , इज्ज़त और धैर्य से रहती थी, जब भी राजा को कोई परेशानी होती वह उसे बताता ताकि वह राजा को उस परेशानी का हल बता सके.
राजा की पहली पत्नी राजा की सबसे वफ़ादार थी और राज्य और उसकी दौलत बढ़ाने में बहुत मदद करती थी। मगर, वह अपनी पहली पत्नी से प्यार नहीं करता था।
एक बार राजा बीमार पड़ गया और उसे समझ आ गया की उसके पास समय कम है, इसीलिए उसने अपनी चौथी पत्नी से पूछा की, मैंने सबसे ज्यादा प्यार तुमसे किया है. और तुम्हे सबसे बेहतरीन चीजो से नवाजा है, और तुम्हारा सबसे ज्यादा ध्यान रखा है.
अब जब में मरने जा रहा हु, क्या तुम मेरा साथ देने के लिए मेरे साथ चलोगी? तब उसके चौथी पत्नी ने जवाब दिया की बिलकुल नही.. उसकी बात राजा के दिल में छुरी जैसी चुभी…
अब दुखी राजाने अपने तीसरे पत्नी से पुछा की मैंने सारी जिंदगी तुमसे प्यार किया, अब में जा रहा हु, क्या तुम मेरे साथ चलोगी?
नहीं ऐसा तीसरी पत्नी ने जवाब दिया. जिन्दगी बहुत अच्छी है और जब तुम मरोगे तो में दुबारा शादी करुँगी.
अब राजा ला दिल बैठ गया था और वह ठंडा पड़ गया था, फिर उसने अपनी दूसरी पत्नी से पूछा, मैंने हमेशा ज़रूरत के वक़्त तुमसे मदद माँगी और तुमने भी हमेशा मेरा साथ दिया. जब मैं मरूँगा क्या तुम मेरा साथ देने मेरे साथ आओगी ?
माफ़ करना, इस बार मैं तुम्हारी मदद नहीं कर सकती ! दूसरी पत्नी ने जवाब दिया, ज्यादा से ज्यादा मैं तुम्हे तुम्हारी कब्र तक छोड़ सकती हूँ। ” उसका जवाब बिजली की तरह राजा को लगा और वो बेहद दुखी हो गया।
तभी एक आवाज़ आई : मैं आपके साथ चलूंगी और जहाँ आप जायेंगे, वहाँ चलूंगी. राजा ने नज़र घुमाई तो उसकी पहली पत्नी खड़ी थी. वो बेहद कमज़ोर थी क्योंकि वो खाती नहीं थी.
दुःख से भरकर राजा ने कहा की जब मेरे पास मौका था तब मुझे तुम्हारा बेहतर ध्यान रखना चाहिए था. दोस्तों इस कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है की…
हमारी चौथी पत्नी हमारा शरीर है। हम चाहे इसे सजाने – धजाने में कितना भी दिल लगायें , मृत्यु के समय ये हमे छोड़ जायेगा.
हमारी तीसरी पत्नी हमारी संपत्ति दर्जा और दौलत है, जब हम मरते हैं, ये औरों को मिल जाती है.
हमारी दसूरी पत्नी हमारा परिवार और समिगण हैं, चाहे वो कितना ही हमारे साथ हों, ज़्यादा से ज़्यादा वो हमारे साथ शमशान तक आ जायेंगे, पर उससे आगे नहीूं.
हमारी पहली पत्नी हमारी आत्मा है, जो अक्सर दौलत, ताकत और अहूंकार के सलए बेध्यान हो जाती है.
मगर हमारी आत्मा ही एक ऐसी है जो जहा हम जायेंगे वहा तक जाएगी. इसीलिए इसे उपजाए, ताकतवर बनाए और इसका आज से ही ध्यान रखें! यही दुनिया में आपका सबसे बड़ा तौफा है.
जरुर पढ़े: पिता और पुत्र की दिल को छु लेने वाली कहानी
जरुर पढ़े: गौतम बुद्ध की शिक्षाप्रद कहानी जो आपकी जिंदगी बदल देंगी।
Short Motivational Story in Hindi For Success
एक लड़का नदी में डूब रहा था वह मदद के लिए चिल्लाया। एक आदमी , जो उधर से गुज़र रहा था , नदी में कूद पड़ा और उसने लड़के को बचा लिया। जब वह आदमी जाने लगा तो बच्चे ने कहा , धन्यवाद।
उस आदमी ने पूछा किस लिए ? लड़के ने जवाब दिया , मेरी जिंदगी बचाने के लिए। उस आदमी ने लड़के की आँखों में देखा और कहा , बेटा, जब तुम बड़े हो जाओ, तो इस बात को साबित करना कि तुम्हारी जिंदगी बचाने लायक थी।
दोस्तो यह सोचने का समय है और यही सचेत होने का समय है। आत्म संतुष्टि के बिना सफलता व्यर्थ है। यदि जीवन का कोई अर्थ और उद्देश्य न हो , तो आप कितना भी सम्मान , पैसा और शिक्षा हासिल कर लें , आपको जिंदगी में खालीपन और उदासी ही महसूस होगी।
सेहत , पैसा , परिवार , समाज और जीवन मूल्यों के बारे में अपनी व्यक्तिगत सफलता की फ़िलॉसफ़ि बनाने से ही सफलता की शुरुआत होती है। अगर हमारी जिंदगी में सफलता की साफ़ फिलॉसफ़ी न हो , तो ख्यालीपुलाव ही हमारे मार्गदर्शक बन जाएँगे.
जरुर पढ़े: गीता के ये 10 उपदेश आपकी जिंदगी बदल देंगे
जरुर पढ़े: Top 10 Life Changing Gautam Buddha Stories in Hindi
जरुर पढ़े: जानिए जीवन में सफलता हासिल करने के 100 नियम
Hindi Motivational Story For Students – एक लालची किसान की कहानी
एक लालची किसान से कहा गया कि वह दिन में जितनी जमीन पर चलेगा वह उसकी हो जाएगी, बशर्ते वह सूरज डूबने तक की जगह पर वापस लौट आए। ज्यादा से ज्यादा जमीन पाने के लिए वह किसान दूसरे दिन सूरज निकलने से पहले ही निकल पड़ा।
वह काफ़ी तेजी से चल रहा था क्योंकि वह ज्यादा से ज्यादा जमीन हासिल करना चाहता था। थकने के बावजूद वह सारी दोपहर चलता रहा, क्योंकि वह जिंदगी में दौलत कमाने के लिए हासिल हुए उस मौके को गँवाना नहीं चाहता था।
दिन ढलते वक़्त उसे वह शर्त याद आई कि उसे सूरज डूबने से पहले शुरूआत की हुई जगह पर पहुँचना है। अपनी लालच की वजह से वह उस जगह से काफी दूर निकल आया था, और वह वापस लौट पड़ा।
सूरज डूबने का वक़्त ज्यों – ज्यों क़रीब आता जा रहा था , वह उतनी ही तेजी से दौड़ता जा रहा था। वह बुरी तरह थक कर हॉफने लगा , फिर भी वह बर्दाश्त से अधिक तेजी से दौड़ता रहा।
नतीजा यह हुआ कि सूरज डूबते – डूबते वह शुरूआत वाली जगह पर पहुँच तो गया, पर उसका दम निकल गया और वह मर गया। उसको दफना दिया गया और उसे दफ़न करने के लिए जमीन के बस एक छोटे से टुकड़े की ही जरूरत पड़ी।
जरुर पढ़े: Top 7 Powerful Motivational Speech in Hindi For Success
जरुर पढ़े: जानिए सफलता क्या है और जीवन में सफलता कैसे प्राप्त करें?
Success Motivational Story in Hindi With Moral – एक लार्क चिड़िया की कहानी
एक बार एक लार्क चिड़िया जंगल में गाना गा रही थी। तभी एक किसान उसके पास से कीड़ों से भरा एक सदूक ले कर गुजरा। लार्क चिड़िया ने उसे रोक कर पूछा, तुम्हारे संदूक में क्या है और तुम कहाँ जा रहे हो?
किसान ने जवाब दिया कि उस संदूक में कीड़े है, वह बाजार से उन कीड़ों के बदले पंख खरीदने जा रहा है। लार्क ने कहा, पंख तो मेरे पास भी हैं। मैं अपना एक पंख तोड़ कर तुम्हें दे दूँगी, और उसके बदले में आप मुझे कीड़े दीजिए। इससे मुझे कीड़े नहीं तलाशने पड़ेंगे।
किसान ने लार्क चिड़ियां को कीड़े दिए और लार्क ने उसके बदले में उसे अपना एक पंख तोड़ कर दे दिया। उसके बाद रोज यही सिलसिला चलता रहा और एक ऐसा दिन भी आया , जब लार्क के पास देने के लिए कोई पंख ही नहीं बचा था।
अब वह उड़ कर कीड़े तलाशने लायक नहीं रह गई, और अब वो भद्दी दिखने लगी और उसने गाना छोड़ दिया और जल्दी ही वह मर गई। दोस्तो यही बात हमारी जिंदगी के लिए भी सच है।
कई बार हमें जो रास्ता आसान लगता है , वही बाद में मुश्किल साबित होता है। इस कहानी का संदेश बहुत ही साफ़ है। लार्क चिड़ियाँ को जो भोजन हासिल करने का आसान तरीका लगा था, वही मुश्किल और नुक़सान देह तरीका साबित हुआ।

0 

Share


उत्सव
Written by
उत्सव

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad