Bluepad | Bluepad
Bluepad
पितर पान
surya
surya
21st Sep, 2022

Share

नित जल का तर्पण करते हो,पर क्या दिल से कभी याद किया
जो श्राद्ध में श्रद्धा नहीं तो,जो किया सब बेबुनियाद किया
जब जिंदा थे तो कभी तबीयत भी नहीं पूछते हैं जो
दुनिया से चले जाने के बाद कौओं को खीर खिलाते हैं वो
बस बताना था कि.......;
इसी धरा पर मृत पुर्वजों के श्राद्ध किए जाते हैं
पर जो जीवित हैं,उन पर अपराध किए जाते हैं
ज़रा सोचें कि जिस आदर श्रद्धा भाव से हम श्राद्ध कर्म में अपने पितरों की पूजा करते हैं, यदि उनके जीवित रहते हुए ही उनकी कुछ सेवा करें,उनका ध्यान रखें तो उनका जीवन सुखमय होने के साथ हमें आशीर्वाद मिलेगा और हमारे बच्चों को अच्छे संस्कार.....!
पितरों के प्रति श्रद्धा ही श्राद्ध है
पेट के श्राद्ध से विचारों का श्राद्ध अधिक महत्वपूर्ण है
जो जीते जी सम्मान के भूखे थे उनके प्रति पेट का श्राद्ध ज़रूरी नहीं विचारों का श्राद्ध चाहिए।।
एक कविता सच्ची श्राद्ध पर 👇👇👇
अपने लिए एक शर्ट ले ली जाए,पिता ने ऐसा विचार किया
फ़िर बेटे का जन्मदिन आया,पिता ने अपनी शर्ट के विचार का श्राद्ध किया 🙏
सारा दिन खटती मां की आंखे,नींद से बोझल हो रही थी
तभी उसने बेटे के बुखार को महसूस किया
मां ने फ़ौरन अपनी नींद का श्राद्ध किया 🙏
फटा हुआ जर्जर बैग पीठ पर लादे , पिता ने नए बैग का स्वप्न देखा
फ़िर बेटे के कॉलेज का ख़र्च याद आया
पिता ने अपने नए बैग के स्वप्न का श्राद्ध किया 🙏
हमेशा पीठ दर्द की शिक़ायत थी,मां ने वाशिंग मशीन का ख़्वाब देखा
बेटे की स्मार्ट फोन की ज़िद देख, मां ने वाशिंग मशीन का श्राद्ध किया 🙏
पिता की चप्पल जर्जर हालत में थी,नए जूते खरीदने का मन बनाया
लेकिन बेटे के सपोर्ट शूज़ के लिए, पिता ने अपने जूते के ख़्वाब का श्राद्ध किया 🙏
अब पिता वृद्धाश्रम में हैं और मां स्वर्गवासी हो चुकी है
बेटे के भविष्य के लिए जीवन में ना जाने कितने श्राद्ध उन्होंने कर दिए 🙏
कुछ साल बाद बेटा मां बाप का श्राद्ध कर रहा था
पिंड बनाकर पत्तों पर रख रहा था
आ आ कर कौओं को बुला रहा था
तभी दो कौए वहां पहुंचे, और ख़ुशी ख़ुशी पिंड खाने लगे
मृत्यु के बाद भी बेटे की ख़ुशी की खातिर दोनों ने अपने आत्मसम्मान का श्राद्ध किया 🙏
हमेशा याद रखें....;
जिस देश में दिवंगत पूर्वजों के लिए श्राद्धकर्म की अनूठी परंपरा हो
उसमें जीवित बुजुर्गो के लिए वृद्धाश्रम होना लज्जाजनक है।

174 

Share


surya
Written by
surya

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad