Bluepad | Bluepad
Bluepad
आशिक हम भी
r
reshma gautam bansode
6th Aug, 2022

Share

हमारे उसूल और उनकी ख्वाईशे
ऋतू तो आए मन की बहार है
वरना आशिक ओ भी है हम भी.,...
कुछ वादे उनके कुछ हमारे
कुछ सादगी हममे कुछ नादनीया उनमे
वरना आशिक ओ भी है हम भी.........
कुछ अंदाज आज भी घुमे है कुछ रुकावटे आज भी
यादो की धडकन दिलो की ख्वाईशे..
कुछ करिबी से बंधी हुई है और कुछ दूरीयो सै
कोई नुर .. हमारा कुछ प्रीत...... उनकी
वरना आशिक वो भी है हम भी..,.........
कुछ खास है जो दिलो के पास है
कुछ चमक है जो दिलो से दूर है
वरना आशिक वो भी है हे हम भी...

181 

Share


r
Written by
reshma gautam bansode

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad