Bluepad | Bluepad
Bluepad
Abraham Lincoln ki Jivan Kahani
उत्सव
उत्सव
3rd Aug, 2022

Share

अब्राहम लिंकन का जन्म 12 फेब्रुवरी 1809 को अमेरिका के केनटकी राज्य के हार्डिन काउंटी नाम के एक जगह पर हुआ था. उनके पिता का नाम थॉमस लिंकन, मा का नाम नॅन्सी लिंकन था उनका पूरा परिवार बहोत ही ग़रीब था और खुद के बनाए हुए लकड़ी के मकान मे रहता था लिंकन के पिता खेती करते थे. अब्राहम के जन्म के दो साल के बाद ही ज़मीन के विवाद की वजह से लिंकन परिवार को वो जगह छोड़नी पड़ी उसके बाद वो नॉब क्रीक फार्म मे रहने आए और वहा पर ज़मीन को खेती के लायक बना कर काम करना शुरू कर दिया. लेकिन कुछ साल के बाद यहा पर भी उन्हे ज़मीनी विवाद झेलना पड़ा और फिरसे वहा से भी उस जगह को छोड़ कर जाना पड़ा.
जिसके बाद 1816 मे लिंकन परिवार इंडियाना के एक नदी किनारे आकर बस गया. अब्राहम लिंकन जब 6 साल के हुए तब उन्हे स्कूल भेजा गया लेकिन घर की हालत नाज़ुक होने के कारण उन्हे अपने पिता के साथ खेतो मे भी काम करना पड़ता था. और उनके पिता भी कभी नही चाहते थे की वो पढ़ाई लिखाई करे इसी वजह से कुछ ही दीनो मे अब्राहम को ना चाहते हुए भी पढ़ाई छोड़नी पड़ी. हालाकी उन्हे पढ़ाई का बहोत शौक था जब भी उन्हे समय मिलता तो वो दूसरो से कितबे लेकर पढ़ने लगते. Abraham Lincoln Ki Jivan Kahani
उसी बीच उनके जीवन मे दुखद मोड़ तब आया जब 5 ऑक्टोबर 1818 को उनकी मा का देहांत हुआ. उस समय अब्राहम केवल 9 साल के थे. मा के मृत्यु के बाद घर की सारी ज़िम्मेदारी अब्राहम की बेहन सारा पर आ गयी. उस समय सारा भी केवल 11 साल की थी. कुछ साल बाद घर के हालत देखकर थॉमस ने एक विधवा महिला से शादी कर ली. उस महिला के 3 बच्चे पहलेसे ही थे. अब्राहम को उसकी सौतेली मा ने उसकी सग़ी मा से भी ज़्यादा प्यार दिया. और कभी भी मा की कमी महसूस नही होने दी.
कुछ समय के बाद वो गाओं मे एक पोस्ट मास्टर बन गये. इस वजह से बहोत सारे लोग उन्हे जानने लगे. अब लिंकन ने स्थानिक लोगो की परेशानियो को देखकर राजनीति मे घुसने का सोचा. क्यूकी उस समय दास प्रथा चल रही थी और लिंकन को यह बिल्कुल पसंद नही था. इसी लिए उन्होने विधायक का चुनाव लड़ा पर उन्हे सफलता नही मिली.
24 साल की उम्र मे उन्ह एक लड़की से प्यार हो गया पर कुछ ही दीनो के बाद गंभीर बीमारी की वजह से उस लड़की की मृत्यु हो गयी. इस बात का लिंकन पर गहरा असर हुआ. वो घंटो घंटो तक अपनी प्रेमिका के क़ब्र के पास बैठकर रोते रहते थे. अब्राहम लिंकन के जीवन मे सबकुछ उनके खिलाफ चल रहा था. लिंकन का एक समय ऐसा भी था की वो चाकू छुरी से दूर रहते थे क्यूकी उन्हे डर था की कही वे खुद को ही ना मार दे. उस समय उनके एक मित्रा ने उनका मनोबल बढ़ाया और उन्हे डिप्रेशन से बाहर निकाला. अपनी दोस्त के मद्त से लिंकन फिर से चुनाव लढ़े और इस बाद जीत भी गये. उसके बाद उन्होने 20 साल बिना किसीसे पैसे लिए वकालत की.
कुछ समय के बाद वो गाओं मे एक पोस्ट मास्टर बन गये. इस वजह से बहोत सारे लोग उन्हे जानने लगे. अब लिंकन ने स्थानिक लोगो की परेशानियो को देखकर राजनीति मे घुसने का सोचा. क्यूकी उस समय दास प्रथा चल रही थी और लिंकन को यह बिल्कुल पसंद नही था. इसी लिए उन्होने विधायक का चुनाव लड़ा पर उन्हे सफलता नही मिली. Abraham Lincoln Ki Jivan Kahani
24 साल की उम्र मे उन्ह एक लड़की से प्यार हो गया पर कुछ ही दीनो के बाद गंभीर बीमारी की वजह से उस लड़की की मृत्यु हो गयी. इस बात का लिंकन पर गहरा असर हुआ. वो घंटो घंटो तक अपनी प्रेमिका के क़ब्र के पास बैठकर रोते रहते थे. अब्राहम लिंकन के जीवन मे सबकुछ उनके खिलाफ चल रहा था. लिंकन का एक समय ऐसा भी था की वो चाकू छुरी से दूर रहते थे क्यूकी उन्हे डर था की कही वे खुद को ही ना मार दे. उस समय उनके एक मित्रा ने उनका मनोबल बढ़ाया और उन्हे डिप्रेशन से बाहर निकाला. अपनी दोस्त के मद्त से लिंकन फिर से चुनाव लढ़े और इस बाद जीत भी गये. उसके बाद उन्होने 20 साल बिना किसीसे पैसे लिए वकालत की.
लिंकन ने 1842 मे शादी कर ली. 1860 मे लिंकन ने यूयेसे के राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव लढ़े और 16 वे राष्ट्रपति बनकर अपने जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि हासिल की. उसके बाद उन्होने ऐसे महत्वपूर्ण काम किए जिसका लोगो को बहोत ज़्यादा फ़ायदा हुआ.
15 एप्रिल 1865 मे लिंकन की मौत हुई.

177 

Share


उत्सव
Written by
उत्सव

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad