Bluepadसलाम है
Bluepad

सलाम है

मर्मस्पर्शी जीवन
मर्मस्पर्शी जीवन
11th Jun, 2020

Share

सरहदों की मिट्टी दो तरफ़ लाल है ।
लेकीन फ़रक इतना सा है ,
इस तरफ़ का खून तिरंगे की शान है ।
पुछ आओ उस मिट्टी से जिस पर बहा वह लहू हम भारतीयों की जान है ।
अपनी माॅ का प्यार फिका लगता है उन वीर जवानों को झेलते हैं छाती पर वार हम सब की माॅ के लिए वो ।


🇮🇳 ऐसी ताकद को सलाम है 🇮🇳

लेखक :- शुभम ज्योती चव्हाण

3 

Share


मर्मस्पर्शी जीवन
Written by
मर्मस्पर्शी जीवन

Comments

SignIn to post a comment

Recommended blogs for you

Bluepad